मंडियों में क्रास 35 व फर्राटा मूली का बोलबाला

सोमानी कनक सीड्स प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का नाम सब्जी के उन्तशील बीजों के लिए बड़े ही सम्मान से लिया जाता है। कंपनी अनेक तरह के सब्जियों के बीजों को विकसित कर किसानों की आय में बढोत्तरी कर रही है। देश के विभिन्न प्रांतों के किसान सोमानी कंपनी के बीजों का प्रयोग कर ज्यादा लाभ कमा रहे हैं।
कंपनी की टीम ने मंडियों का बाल जानने के लिए लखनऊ के कुछ मंडियों का दौरा किया। इस दौरान टीम के सदस्यों ने पाया कि सोमानी कंपनी के क्रास 35 व फर्राटा किस्म की धड़ल्ले से बिक्री हो रही है। एक व्यापारी ने बताया कि वैसे तो गर्मी के सीजन में मूली की मांग बढ़ जाती है लेकिन क्रास 35 व फर्राटा की बिक्री और धड़ल्ले से हो रही है। व्यापारी ने बताया कि कोई भी ग्राहक अच्छे किस्म की सब्जी को लेना पसंद करता है। यहां मंडी में क्रास 35 व फर्राटा के मुकाबले कोई अन्य मूली टिकता नहीं है। यही कारण है कि क्रास 35 व फर्राटा की मांग खूब की जा रही है।
किसानों ने भी क्रास 35 व फर्राटा के उत्पाद व उससे मिलने वाले लाभ को सराहा। किसानों ने कहा कि  क्रास 35 व फर्राटा मुली की विशेषता यह है कि यह अन्य वैराइटी के ज्यादा सफेद व बड़ा होता है। खाने में इसका स्वाद भी बहुत अच्छा है।
मूली की तर्ज पर अन्य सब्जियों की मांग भी मंडियों में बढ़ती जा रही है। अन्य राज्यों से भी इस वैरायटी के बेहतर परिणाम की खबरें आ रही है। जिन किसानों ने क्रास 35 व फर्राटा को अपने खेतों में लगाया है वे इस वैरायटी के उत्पादन से खुश हैं और इसकी प्रशंसा कर रहे हैं। किसानों ने माना है कि क्रास 35 व फर्राटा मूली में रोगप्रतिरोधक क्षमता ज्यादा होने के कारण इसमें रोग व कीट लगने की संभावना भी कम होती है। व्हाइट स्नो के बीजों की अंकुरण क्षमता अधिक होने के कारण किसान अधिक पैदावार ले रहे हैं।

More on this section