Fasal Krati

आम की खेती कर लखपति बना यह किसान

Last Updated: February 22, 2019 (23:02 IST)

मेहनत के दम पर क्या नहीं किया जा सकता। मेहनत अगर सही दिशा में सही लक्ष्य के लिए किया जाए तो सब कुछ संभव है। मेहनत के दम पर नवसारी, गुजरात के रहने वाले दीपकभाई भवनभाई पटेल ने कीर्तिमान स्थापित किया है। दीपकभाई भवनभाई पटेल आम के बड़े उत्पादक किसान है। दीपकभाई कृषि की बेहतरीन तकनीक का प्रयोग कर आमों की खेती करते हैं। नवसारी के आमों ने दीपकभाई को बागों का बादशाह बना दिया है। दीपकभाई बताते हैं कि मुझे वर्ष 1991 में पिता के द्वारा 20 एकड़ जमीन विरासत में मिली थी। उसी में मैं जंबो केसर, लंगड़ा, राजापुरी, अल्फॉन्जो, दशहरी और तोतापुरी आम की किस्में उगाता हूं। बढ़ते समय के साथ उन्होंने आम की खेती के लिए जमीन भी बढ़ाना शुरू किया और 70 एकड़ जमीन लीज पर लिया। आज वे 125 एकड़ जमीन पर लगभग 3700 आमों के पेड़ से लाखों रूपये कमाते हैं। दीपकभाई अपने इस काम से लाखों किसानों के प्रेरणास्रोत बने हुए हैं।  

दीपकभाई बताते हैं कि शुरूआती दौर में मैं सब्जी और पारंपरिक खेती करता था। जिससे मुझे ज्यादा मुनाफा तो नहीं हो रहा था। ऊपर से मजदूरों की समस्या भी रहती थी। इन्हीं सभी समस्याओं को देखते हुए मैंने सिर्फ आम की खेती करने का विचार किया और इसे बड़े स्तर पर शुरू भी कर दिया। उन्होंने बताया कि हालांकि शुरूआती समय में मुझे समस्या हुई लेकिन मैं सभी समस्याओं का सामना करते हुए आम की खेती करना जारी रखा। मैं अपनी गलतियों से सीखता रहा और उनको सुधार कर आगे बढ़ता रहा।

दीपकभाई बताते हैं कि पहले मैं अपने बागों में कीटनाशकों और फफूंदनाशकों का प्रयोग नहीं करता था जिसके कारण कीटों का प्रकोप बढ़ने लगा और मुझे नुकसान होने लगा। बाद में मैंने कीटों से बागों को बचाने के लिए कीटनाशकों का प्रयोग करने लगा। कृषि संशोधन केंद्र और नवसारी कृषि विश्वविद्यालय के सुझाव अनुसार आम की नई तकनीक से जमीन का शोधन और पानी का टेस्टिंग करके मैं सिंचाई करता हूं और कीटनाशकों का प्रयोग करता हूं जिससे मुझे बहुत उत्पादन मिलता है। मेरे इस काम को देखकर कई अन्य किसानों ने भी आम की खेती करना शुरू कर दिया है। वे सभी मेरे ही तरीके से खेती कर रहे हैं। कई किसान हमारे पास खेती करने के गुर सीखने आते हैं मैं उन्हें बड़े ही उत्साह से खेती करने के तरीकों के बारे में बताता हूं।

 

मैंने जो वैज्ञानिक पद्धति अपनाई है उसमें नवसारी कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों, जिला पंचायत नवसारी खेती बाड़ी शाखा के अधिकारियों का बहुत बड़ा योगदान है। नवसारी कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों, अधिकारियों से मैं विचार विमर्श करता रहता हूं। उनके सुझाव के लिए मैं उन सभी का आभारी हूं।    

वे बताते हैं कि आमों के उत्पादन के लिए मुझे वर्ष 2014-15 में आत्मा बेस्ट फार्मर ऑफ गुजरात का अवॉर्ड भी मिला। जिसमें मुझे 50 हजार नगद, शाल, ट्रॉफी और प्रमाणपत्र दिया गया। मुझे अब तक 19 अन्य अवॉर्ड भी मिल चुके हैं। फसल क्रांति परिवार दीपकभाई के स्वर्णिम भविष्य की कामना करती है।   


MORE ON THIS SECTION


Darshan Bhalara produces the best honey

सर्वोत्तम शहद उत्पन्न करते हैं दर्शन भालारा

दर्शन भालारा को शहद उत्पादक कहने के बजाय शहद-प्रेमी या फिर स्वास्थ्य-प्रेमी कहें तो उचित होगा। दरअसल दर्शन भालारा एक ऐसे किसान हैं जो उच्च गुणवत्ता वाली कई तरह के शहद का उत्पादन करते हैं। एमबीए की डिग…

Farmer becomes millionaire by farming with new techniques

नयी तकनीकों से खेती कर लखपति बना किसान

मध्य प्रदेश के धार जिले के ग्राम एहमद निवासी 39 वर्षीय राजेश पाटीदार शुरू से ही खेती में कुछ बड़ा करने की चाह रखते थे। उनकी चाह और कड़ी मेहनत के परिणाम स्वरूप उन्होंने अपने आप को साबित किया और वे एक स…

Vallri Chandrakar became a successful farmer

नौकरी छोड़ सफल किसान बनी वल्लरी चंद्राकर

खेती-किसानी यूं तो पुरुषों का काम माना जाता है लेकिन बिना महिलाओं के सहयोग से कृषि कार्य पूरा नहीं होता। महिलाएं खेती में बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले रही हैं। इसी कड़ी में हम आपको एक ऐसी महिला किसान के बारे …

This scientist got Limca Book of Record for most flowers

सर्वाधिक फूल खिलाने के लिए इस वैज्ञानिक को मिला लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड

क्या कभी आपने एक पौधे में 500 से ज्यादा फूल देखे हैं। अगर नही तो हम आपको एक ऐसे वैज्ञानिक के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने गेंदे के एक पौधे में 865 फूल खिलाएं हैं। इतना ही नहीं इन फूलों को कारण …

Horizontal Ad large