एनएफएल की बिक्री में इजाफा

पिछले सभी रिकॉर्डों को तोड़ते हुए, नेशनल फर्टिलाइजर्स लिमिटेड (एनएफएल) ने खरीफ सीजन 2019 के दौरान 27 लाख मीट्रिक टन उर्वरक की बिक्री हासिल की है, जो इस सीजन के दौरान पिछले वर्ष की बिक्री से 25 प्रतिशत अधिक है।

इस अवधि में यूरिया की बिक्री में 20 प्रतिशत और डीएपी की बिक्री में 80 प्रतिशत की वृद्धि हुई। कंपनी ने लगभग 5.73 लाख टन डीएपी, एमओपी, एनपीके, एपीएस और पानी में घुलनशील उर्वरक का आयात किया जिसे विपणन टीम ने सफलतापूर्वक किसानों को आपूर्ति की।

ऐतिहासिक खरीफ बिक्री के आंकड़ों पर बोलते हुए एमडी, मनोज मिश्रा ने कहा कि कंपनी ने इस खरीफ सीजन में सभी प्रकार के उर्वरकों की बड़ी मात्रा को ग्राहकों तक पहुंचाया और एक उच्च प्रेरित विपणन टीम ने इस परिणाम को प्राप्त करने के लिए बहुत मेहनत की।

एनएफएल प्रथम श्रेणी की एक मिनी रत्न कंपनी है जिसकी स्थापना 23 अगस्त 1974 को किया गया। इसका कॉर्पोरेट कार्यालय नोएडा में है।

कंपनी का विजन "उर्वरकों की समय पर आपूर्ति के माध्यम से संतुष्टि के लिए कृषक समुदाय और अन्य ग्राहकों की सेवा करना है। कंपनी विभिन्न तरह के उर्वरकों का निर्माण करती है। एनएफएल नीम कोटेड यूरिया के विनिर्माण और विपणन में लगा हुआ है। कंपनी के ब्रांड नाम को बाजार में 'किसान' के नाम से जाना जाता है। कंपनी ने बीज के रूप में अपने स्वयं के ब्रांड नाम के तहत बिक्री के लिए अपने बीज गुणन कार्यक्रम के तहत प्रमाणित बीजों का उत्पादन भी शुरू किया है।

More on this section